अगर अमरीका जेसीपीओए को फाड़े तो ईरान उसे आग लगा देगाः वरिष्ठ नेता

Rate this item
(0 votes)
अगर अमरीका जेसीपीओए को फाड़े तो ईरान उसे आग लगा देगाः वरिष्ठ नेता

इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता ने कहा है कि अगर अमरीका जेसीपीओए को फाड़े तो इस्लामी गणतंत्र ईरान उसे आग लगा देगा।

आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनेई ने बुधवार की शाम ईरान की तीनों पालिकाओं के प्रमुखों, वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों और विभिन्न विभागों के उच्चाधिकारियों से मुलाक़ात में इस बात का उल्लेख करते हुए कि ईरान, संयुक्त समग्र कार्य योजना (जेसीपीओए) का उल्लंघन नहीं करेगा, कहा कि अमरीका में राष्ट्रपति चुनाव के प्रत्याशी धमकी दे रहे हैं कि वे इस समझौते को फाड़ देंगे और अगर वे एेसा करेंगे तो ईरान उसे आग लगा देगा। उन्होंने कहा कि जेसीपीओए में दूसरे पक्ष का दायित्व प्रतिबंधों की समाप्ति था और उसने अभी तक प्रतिबंध समाप्त नहीं किए हैं, बैंकों की समस्या अभी तक हल नहीं हुई है, तेल वाहक जहाज़ों का इन्शोरेंस बहुत सीमित पैमाने पर हो रहा है और अन्य देशों में ईरान का पैसा और तेल की राशि उसे नहीं दी जा रही है।

आयतुल्लाहिल उज़मा ख़ामेनेई ने कहा कि अमरीकियों ने अपने वादों का अहम भाग पूरा नहीं किया है लेकिन इस्लामी गणतंत्र ईरान ने अपनी सभी कटिबद्धताओं का पालन किया है, यूरेनियम का बीस प्रतिशत संवर्धन, फ़ोर्दू का परमाणु प्रतिष्ठना और अराक का भारी पानी का प्रतिष्ठान बंद कर दिया है। उन्होंने इस बात का उल्लेख करते हुए कि जेसीपीओए के समर्थक और विरोधी दोनों ही अतिशयोक्ति से काम ले रहे हैं, कहा कि जो बात मैं कह रहा हूं वह कदापि उन भाइयों से संबंधित नहीं है जिन्होंने कड़ी मेहनत की है बल्कि मैं दूसरे पक्ष के बारे में कह रहा हूं और जेसीपीओए के कुछ लाभ और कुछ रुकावटें हैं जिनसे शत्रु अवैध लाभ उठा रहा है। वरिष्ठ नेता ने इसी तरह कहा कि शत्रु का इस समय का कार्यक्रम यह है कि इस्लामी गणतंत्र ईरान की क्षमताओं को रोक दे, समाप्त कर दे या उनकी प्रगति पर अंकुश लगा दे और इस स्थिति में ईरान को जहां तक संभव हो अपनी क्षमताओं में वृद्धि करनी चाहिए।  

 

Read 1213 times