ईरान, ईसाइयों के लिए क्षेत्र का सबसे सुरक्षित देश: एएफ़पी

Rate this item
(0 votes)
ईरान, ईसाइयों के लिए क्षेत्र का सबसे सुरक्षित देश: एएफ़पी

फ्रांसीसी समाचार एजेंसी ने एक रिपोर्ट में ईरानी ईसाइयों को मिलने वाली सुरक्षा के बारे में लिखा है कि ईरान, ईसाइयों के लिए मध्यपूर्व का सबसे सुरक्षित देश है।

इस समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार ईरान की इस्लामी क्रांति के संस्थापक इमाम ख़ुमैनी (र.ह) ने क्रांति के बाद यह आदेश दिया था कि ईरान में रहने वाले ईसाइयों, यहूदियों और पारसियों को भी वैसा ही सम्मान दिया जाए जैसा इस देश में रहने वाले मुसलमानों को दिया जाता है और किसी के साथ धर्म के नाम पर भेदभाव न बरता जाए।

 

फ्रांस की समाचार एजेंसी ने अपनी रिपोर्ट में तेहारान में रहने वाले ईसाई धर्म के लोगों द्वारा क्रिसमस के जश्न को पूरी स्वतंत्रता और सरकार के भरपूर सहयोग से मनाए जाने की ओर संकेत करते हुए लिखा है कि ईरानी ईसाइयों को अधिकारियों की ओर से किसी प्रकार के प्रतिबंधों का सामना नहीं करना पड़ता है।

 

एएफ़पी ने ईरानी ईसाइयों के वरिष्ठ धार्मिक नेता "रम्ज़ी गारमू" से विशेष बातचीत की है। समाचार एजेंसी ने ईसाई धर्मगुरू से हुई बातचीत की ओर इशारा करते हुए लिखा है कि रम्ज़ी गारमू ने ईरान में विभिन्न धार्मिक अल्पसंख्यकों को प्राप्त सुरक्षा का उल्लेख करते हुए कहा है कि मैं इस बात के लिए ईश्वर का आभारी हूँ कि इस युद्धग्रस्त क्षेत्र में ईरान शांति का केंद्र है।  

 

Read 95 times

Add comment


Security code
Refresh