इस्लामी क्रांति के हज के राजनैतिक संदेशों को इस्लामी जगत तक पहुंचाने पर वरिष्ठ नेता का बल

Rate this item
(0 votes)
इस्लामी क्रांति के हज के राजनैतिक संदेशों को इस्लामी जगत तक पहुंचाने पर वरिष्ठ नेता का बल

इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता ने सोमवार को हज समिति के सदस्यों से मुलाक़ात में इस्लामी क्रांति के हज के राजनैतिक संदेशों को इस्लामी जगत तक पहुंचाने पर बल दिया।

आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनेई ने ईश्वर की ओर से हज की अनिवार्य उपासन के लिए मुसलमानों को एक विशेष समय व स्थान पर एकत्रित होने के आदेश को, मुसलमानों के आपसी संपर्क व सहयोग और इस्लामी समुदाय की शक्ति के प्रदर्शन जैसे अहम राजनैतिक संदेशों व आयामों का प्रतीक बताया। उन्होंने कहा कि हज के आध्यात्मिक आयामों के अलावा जो काफ़ी अहम हैं, इन वास्तविकताओं और इस्लामी लक्ष्यों को भी स्पष्ट रूप से पेश किया जाना चाहिए और इसके लिए कार्यक्रम तैयार किए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि हज में इस्लामी समुदाय के लोगों के आपसी संपर्क, हाजियों तक इस्लामी क्रांति के संदेशों को पहुंचाना और उनकी शंकाओं को दूर करना, अन्य इस्लामी देशों के साथ इस्लामी गणतंत्र ईरान के संबंधों की मज़बूती का मार्ग प्रशस्त करना और सभी इस्लामी मतों का भाईचारे और शांतिपूर्ण ढंग से साथ रहना, हज के अहम राजनैतिक संदेशों में शामिल है।

 

इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता ने कहा कि हज को इस्लामी क्रांति के लिए सम्मान का कारण बनना चाहिए इस लिए हज के राजनैतिक आयामों को भुलाया नहीं जाना चाहिए। आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनेई ने कहा कि इस्लामी क्रांति के बाद के हज और उससे पहले के हज तथा इस्लाम की मूल शिक्षाओं से अनभिज्ञ देशों के हज में बहुत अंतर है। उन्होंने सऊदी सरकार की ओर से ईरानी हाजियों के दुआए कुमैल के कार्यक्रम के आयोजन में डाली जाने वाली बाधाओं की तरफ़ इशारा करते हुए कहा कि इन बाधाओं और रुकावटों से गुज़रने की कोशिश की जानी चाहिए। उन्होंने इसी तरह हज के विकास के बहाने हज़रत मुहम्मद, हज़रत अली और इस्लाम के आरंभिक काल के मुजाहिदों की यादगारों को मिटाए जाने की कड़ी आलोचना की और कहा कि अन्य देश अपने एेतिहासिक अवशेषों की भरपूर तरह से रक्षा करते हैं और कभी कभी तो अपने इतिहास को समृद्ध दिखाने के लिए इस प्रकार के अवशेष गढ़ भी लेते हैं लेकिन सऊदी अरब में इसके विपरीत हो रहा है और मक्के व मदीने के अनेक इस्लामी अवशेषों को ध्वस्त कर दिया गया है।

 

Read 54 times

Add comment


Security code
Refresh