ईरान को रासायनिक शस्त्रों से सब से अधिक नुकसान पहुंचा

Rate this item
(0 votes)
ईरान को रासायनिक शस्त्रों से सब से अधिक नुकसान पहुंचा

रासायनिक शस्त्र निरोधक संस्था में इस्लामी गणतंत्र ईरान के प्रतिनिधि ने कहा है कि ईरान रासायनों से सर्वाधिक नुकसान उठाने वाले देशों में से है।

अली रज़ा जहांगीरी ने हालैंड में इस संस्था के 20 वें सम्मेलन में भाषण के दौरान यह बात कही।

उन्होंने रासायनिक शस्त्रों को विश्व शांति के लिए खतरा बताते हुए इस प्रकार के हथियारों से संपन्न देशों से मांग की कि वह रासायनिक शस्त्र संबंधी अंतरराष्ट्रीय नियमों का पालन करें।

अली रज़ा जहांगीरी ने कहा कि ईरान को रासायनिक शस्त्रों से बहुत अधिक नुकसान पहुंचा है और आज भी ईरान में बहुत से लोग, इस प्रभाव के कारण पैदा होने वाली बीमारियों से जूझ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इस्राईल रासायनिक शस्त्रों सहित किसी भी प्रकार के निशस्त्रीकरण कन्वेंशन का सदस्य नहीं है जिसकी वजह से मध्य पूर्व में असुरक्षा का वातावरण है और खेद की बात है कि इस शासन को अंतरराष्ट्रीय कन्वेन्शनों से जुड़ने पर तैयार करने के लिए किसी प्रकार का दबाव नहीं डाला जाता।
रासायनिक शस्त्र निरोधक संस्था का गठन वर्ष 1997 में किया गया था और इस समय विश्व के 192 देश इस संस्था के सदस्य हैं।
इस संस्था का 20 वां सम्मेलन सोमवार को हालैंड के हेग नगर में आरंभ हुआ है जो पांच दिनों तक जारी रहेगा।   

Read 1100 times