वरिष्ठ नेता का पत्र, विदेश मंत्रालय की जनकूटनीति

Rate this item
(0 votes)
वरिष्ठ नेता का पत्र, विदेश मंत्रालय की जनकूटनीति

पश्चिमी देशों के युवाओं के नाम इस्लामी क्रान्ति के वरिष्ठ नेता के संदेश को बड़े पैमाने पर लोगों तक पहुंचाने के लिए जनकूटनीति का प्रयोग किया जा रहा है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सादिक़ हुसैन जाबिरी अंसारी ने सोमवार को पश्चिमी देशों के युवाओं के नाम आयतुल्लाहिल उज़्मा सय्यद अली ख़ामेनई के ख़त के संबंध में, विदेश मंत्रालय द्वारा उठाए गए क़दम के बारे में कहा कि वरिष्ठ नेता के दूसरे संदेश के जारी होने के साथ साथ विदेश मंत्रालय ने इस संदेश के विश्व स्तर पर सही तरह से प्रतिबिंबन के लिए, विदेशों में ईरानी दूतावासों को निर्देश दिए।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने मिना त्रासदी और इसकी जांच कमेटी के बारे में कहा कि इस विषय के संबंध में ईरान की नीति स्पष्ट है कि हज के संस्कारों के आयोजन की मेज़बानी करने वाली सऊदी सरकार पर, स्वाभाविक रूप से इस मेज़बानी के विभिन्न आयामों की क़ानूनी दृष्टि से ज़िम्मेदारी बनती है।

Read 1205 times