क्रांति के दौरान श्रमिको ने बहुत ही सम्मानीय भूमिका निभाईः वरिष्ठ नेता

Rate this item
(0 votes)
क्रांति के दौरान श्रमिको ने बहुत ही सम्मानीय भूमिका निभाईः वरिष्ठ नेता

वरिष्ठ नेता ने कहा है कि इस्लामी क्रांति के दौरान श्रमिको ने बहुत ही सम्मानीय ढंग से भूमिका निभाई।

इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता का कहना है कि श्रमिकों ने इस्लामी क्रांति के दौरान की घटनाओं और पवित्र प्रतिरक्षा के दौरान  सम्मानीय ढंग से दूरदर्शिता के साथ अपनी उपस्थति दर्ज कराई।

आयतुल्लाहिल उज़्मा सैयद अली ख़ामेनेई ने श्रमिकों के बलिदान का उल्लेख करते हुए कहा कि जब कभी भी स्वर्गीय इमाम ख़ुमैनी युद्ध के मोर्चे पर जाने के लिए जनता से आह्वान किया करते थे तो श्रमिक, पूरे उत्साह से मोर्चों पर पहुंचकर देश की रक्षा करते थे।  उन्होंने कहा कि समाज के विभिन्न वर्गों के लोगों ने इस्लामी क्रांति और पवित्र प्रतिरक्षा के दौरान शहादत पेश की किंतु उनमें श्रमिकों को विशेष स्थान प्राप्त है।  वरिष्ठ नेता का कहना था कि क्रांति के दौरान शत्रु, देश के श्रमिकों को ईरान के विरुद्ध उकसाते थे किंतु उन्होंने हर प्रकार के दुष्प्रचार से बचते हुए इस्लामी क्रांति के हित में काम किया।

वरिष्ठ नेता ने यह बात 5 फ़रवरी 2018 को आयोजित एक कांफ्रेंस में कही जिसका शीर्षक था, "चौदह हज़ार शहीद सम्मेलन"।  आयतुल्लाहिल उज़्मा सैयद अली ख़ामेनेई का संदेश आज 26 फ़रवरी को सम्मेलन स्थल से प्रसारित किया गया।

 

Read 272 times

Add comment


Security code
Refresh