किसी भी शक्ति को हस्तक्षेप की अनुमति नहीं दी जाएगी

Rate this item
(0 votes)
किसी भी शक्ति को हस्तक्षेप की अनुमति नहीं दी जाएगी

तेहरान की केन्द्रीय नमाज़े जुमा के इमाम ने कहा कि क्षेत्र में ईरान की उपस्थिति का किसी भी बाहरी ताक़त कोई लेना देना नहीं है और ईरान किसी भी बाहरी ताक़त को हस्तक्षेप की अनुमति नहीं देगा।

तेहरान की केन्द्रीय नमाज़े जुमा के इमाम हुज्जतुल इस्लाम काज़िम सिद्दीक़ी ने नमाज़े जुमा के ख़ुतबों में कहा कि यह बात कदापि स्वीकार्य नहीं है कि कोई यूरोपीय देश अमरीका का दल्लाल बनकर आए और हमसे यह कहे कि इस इलाक़े में आपको कुछ करने के लिए हमसे अनुमति लेनी होगी। उन्होंने कहा कि ईरान ने आज तक किसी भी बाहरी शक्ति को हस्तक्षेप की अनुमति नहीं दी है और भविष्य में भी किसी ताक़त को हस्तक्षेप की इजाज़ नहीं दी जाएगी।

तेहरान की केन्द्रीय नमाज़े जुमा के इमाम ने कहा कि इलाक़े में ईरान की उपस्थिति और प्रभाव अमरीका के हिंसा और फ़ितना फैलाने वाले तत्वों पर अंकुश लगाने के लिए है।

हुज्जतुल इस्लाम काज़िम सिद्दीक़ी ने ईरान को नुक़सान पहुंचाने में विश्व सम्राज्यवाद की विफलता का हवाला देते हुए कहा कि सारी साज़िशें ईरान में उपद्रव और अराजकता पैदा करने के लिए थीं जिन्हें जनता की दूरदर्शता और ईश्वर की कृपा तथा इस्लामी क्रान्ति के वरिष्ठ नेता के विवेकपूर्ण नेतृत्व की मदद से नाकाम बना दिया गया।

तेहरान की केन्द्रीय नमाज़े जुमा के इमाम ने पैग़म्बरे इस्लाम की सुपुत्री हज़रत फ़ातेमा ज़हरा सलामुल्लाह अलैहा के शुभ जन्म दिवस की बधाई दी और महिला दिवस या माता दिवस का हवाला देते हुए हज़रत फ़ातेमा ज़हरा सलामुल्लाह अलैहा को सारी दुनिया के एकेश्वरवादियों और इस्लामी जगत तथा ईरानी जनता के लिए आदर्श बताया। उन्होंने कहा कि हज़रत फ़ातेमा ज़हरा उन सभी इंसानों के लिए संपूर्ण मानवीय आदर्श हैं जो मानवीय मूल्यों पर आस्था रखते हैं।

 

Read 117 times

Add comment


Security code
Refresh