ईरान एक उभरती हुई शक्ति का नाम हैः इमामे जुमा

Rate this item
(0 votes)
ईरान एक उभरती हुई शक्ति का नाम हैः इमामे जुमा

तेहरान के अस्थाई इमामे जुमा ने कहा है कि ईरान तेज़ी से उभरती हुई शक्ति है और उसके विकास और प्रगति की रफ़्तार को कदापि नहीं रोका जा सकता।

तेहरान की केन्द्रीय नमाज़े जुमा मुहम्मद हसन अबू तुराबी की इमामत में अदा की गयी। उन्होंने नमाज़े जुमा के अपने भाषण में अमरीकी-सऊदी और ज़ायोनी अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि ईरान की तीव्र प्रगति और विकास को किसी भी क़ीमत पर नहीं रोका जा सकता क्योंकि ईरान तेज़ी के साथ उभरती हुई शक्ति में बदल चुका है।

उन्होंने कहा कि ईरान की राजनैतिक, प्रतिरक्षा, सुरक्षा और विज्ञान के क्षेत्रों में शक्ति अनुदाहरणीय और असमान्य है। तेहरान के इमामे जुमा ने कहा कि यह शक्ति प्रतिरोधक मोर्चे के गठन और वर्चस्ववादी व्यवस्था के विरुद्ध  युद्ध के मैदान में सफलता और पवित्र प्रतिरक्षा के दौरान ईरानी जियालों के बलिदानों और ईरानी जनता के धैर्य और साहस का परिणाम है। 

तेहरान के इमामे जुमा ने ईरान पर आर्थिक दबाव डालने के दुश्मनों के षड्यंत्रों की ओर संकेत करते हुए कहा कि ईरान के अर्थशास्त्री और अधिकारी, युक्ति अपनाकर ईरान को एशिया में एक बड़ी आर्थिक शक्ति और दुनिया के आर्थिक मामलों में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करने वाले देश में परिवर्तित कर देंगे और दुश्मन अपने इस षड्यंत्र में भी विफल रहे।

तेहरान के इमामे जुमा ने कहा कि इस्लामी गणतंत्र ईरान ईश्वरीय शिक्षाओं पर आधारित अपना मिशन जारी रखेगा और हर दिन नये नये मोर्चे जीतता रहेगा।

 

Read 25 times

Add comment


Security code
Refresh