भारत-पाकिस्तान ने परमाणु प्रतिष्ठानों की सूचि का आदान प्रदान किया

Rate this item
(0 votes)
भारत-पाकिस्तान ने परमाणु प्रतिष्ठानों की सूचि का आदान प्रदान किया

 भारत और पाकिस्तान ने द्विपक्षीय समझौते के तहत अपने परमाणु प्रतिष्ठानों की सूचि का आदान-प्रदान किया।

प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार, यह समझौता एक दूसरे के परमाणु स्थलों पर हमले करने से रोकने वाला है। परमाणु प्रतिष्ठानों से जुड़े समझौते पर 31 दिसंबर 1988 को हस्ताक्षर किये गये थे और यह 27 जनवरी 1991 को व्यवहारिक हुआ था। इसके अनुसार दोनों देशों को हर साल पहली जनवरी को अपने परमाणु प्रतिष्ठानों और स्थलों की सूचना देनी होती है।

दोनों देशों ने नई दिल्‍ली और इस्लामाबाद में अपने कूटनयिकों के माध्यमों से क़ैदियों की सूचि का आदान-प्रदान भी किया जो दोनो देशों की जेलों में बंद हैं। भारतीय विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि दोनों देशों ने एक दूसरे की जेलों में बंद क़ैदियों की सूचि का भी आदान-प्रदान किया। दोनों देशों के बीच कैदियों से जुड़ा समझौता 31 मई, 2008 को हुआ था। इसके अनुसार दोनों देशों को एक दूसरे के कैदियों की सूची का आदान प्रदान हर साल एक जनवरी और एक जुलाई को करना होता है।

Read 1149 times