11 सितंबर की घटना में सीआईए की भूमिका का ख़ुलासा

Rate this item
(0 votes)
11 सितंबर की घटना में सीआईए की भूमिका का ख़ुलासा

सीआईए के पूर्व एजेंट ने ख़ुलासा किया है कि 11 सितंबर 2001 घटना में स्वयं सीआईए शामिल है।

यूरो समाचार वायर की रिपोर्ट के अनुसार, सीआईए के एक पूर्व एजेंट मैक्कलम हावर्ड ने कहा है कि इमारतों को ध्वस्त करने के उनके लंबे अनुभव के कारण सीआईए के उच्य अधिकारियों ने उन्हें न्यूयॉर्क के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के ट्विन टावरों के तबाह करने की परियोजना पर काम करने के लिए मजबूर किया था।

 सीआईए के पूर्व एजेंट के इस ख़ुलासे के साथ ही, ग्यारह सितंबर की घटना की रिकॉर्ड की गई फिल्मों और प्रत्यक्षदर्शियों के ऐसे बयान सामने आए हैं जिनसे इस बात की पुष्टि होती है कि वर्ल्ड ट्रेड सेंटर की ट्विन इमारतें, पहले से रखे गये विस्फोटक पदार्थों के कारण गिरी थीं। उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी बहुत से संचार माध्यम और विशेषज्ञ यह बात कह चुके हैं कि वर्ल्ड ट्रेड सेंटर की इमारतें उनमें पहले से रखे गए विस्फोटक पदार्थों के कारण ध्वस्त हुईं थीं।

याद रहे कि 11 सितंबर 2001 की घटना के बारे में अभी तक पूरी जानकारी सामने नहीं आ सकी है। व्हाइट हाउस ने भी आजतक इस बारे में होने वाली जांच की कोई संपूर्ण रिपोर्ट प्रकाशित नहीं की है। साथ ही इस घटना में सऊदी अरब के लिप्त होने से संबंधित रिपोर्टों के भागों को विशेष रूप से गुप्त रखा जा रहा है।

 ज्ञात रहे कि 11 सितंबर 2001 को आतंकवादियों ने दो यात्री विमानों को वर्ल्ड ट्रेड सेंटर की जुड़वां इमारतों से टकरा दिया था जिसके दोनों इमारतें पूरी तरह ध्वस्त हो गई थीं। आतंकवादी गुट अलक़ाएदा ने इसकी ज़िम्मेदारी ली थी।

 

Read 109 times

Add comment


Security code
Refresh