हुसैनी अनुष्ठानों का पुनरुद्धार, अहले बैत(अ.) की अवधारणा से प्रेरणा के लिए एक अवसर

Rate this item
(0 votes)
हुसैनी अनुष्ठानों का पुनरुद्धार, अहले बैत(अ.) की अवधारणा से प्रेरणा के लिए एक अवसर

 

अंतर्राष्ट्रीय कुरान समाचार ऐजेंसी  समाचार एजेंसी नून इराक के अनुसार, ग्रैंड अयातुल्ला मोहम्मद सईद अल-हकीम ने, Arbaeen तीर्थयात्रा की पूर्व संध्या पर तीर्थयात्रियों के प्रतिनिधिमंडलों और इमाम हुसैन के रौज़ के लिए अहलेबैत (अ.स) के प्रेमियों से मिल्यून लोगों की रैली, जिन्हों ने इराक़ की यात्रा की, के साथ मुलाकात में कहाः Arbaeen तीर्थयात्रा को, अहले बैत(अ.) के मज़्हब के विचारों और उदात्त सिद्धांतों व इसी तरह मुसलमानों के बीच सहयोग, अच्छे संस्कारों से सजने, अच्छे ब्यवहार, ईमानदारी और सच्चाई, माता-पिता के साथ अच्छाई, धैर्य और सहन के बारे में जागरूकता के लिए एक अवसर बताया।

अयातुल्ला हकीम ने कहाः कि इन विशेषताओं के साथ शियाओं के होने से अहले बैत (अ.) पूरी दुनिया के लिए सम्मान का कारण बनेंगे, और उन्हें Ashura समारोह का लाभ उठाने और ऐसे शरीफ़ समारोहों को पाक दामनी,वाजेबात के पालन, बलिदान, दुश्मन न करने,दूसरों से मोहब्बत करने व अन्य नैतिक मूल्यों के रूप में अवधारणाओं और सिद्धांतों को व्यक्त करने की ओर बुलाया जो कि इमाम हुसैन की जीवनी व क्रांति में पाऐ जाते हैं।

 

Read 289 times

Add comment


Security code
Refresh